अद्भुत और विलक्षण महानायक हैं भगवान श्रीकृष्ण : विधायक

ललितपुर के ग्राम गेवरा-गुन्देरा में श्रीकृष्ण की भक्ति में डूबकर जमकर झूमे भक्त

कन्हैया का जन्म होते ही गूंजे जयघोष, भगवान जे दर्शनों को उमड़ा सैलाब

हिमांशु सुडेले के साथ एन पी गोस्वामी की रिपोर्ट
तालबेहट(ललितपुर) : उत्तर प्रदेश के जनपद ललितपुर के विकास खण्ड तालबेहट क्षेत्र की ग्राम पंचायत गेवरा-गुन्देरा के प्रसिद्ध बजरंग बली मन्दिर के समीप स्व.मथुरादास लिटौरिया अमृत सरोवर पर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर सायंकाल की बेला में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव समिति के तत्वाधान में ‘एक शाम, बृज के नाम’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

महोत्सव मंच पर जब श्रीकृष्ण की लीलाएं हुई तो भक्त भगवान की भक्ति में डूब गए। श्रीकृष्ण के भक्तों ने भक्ति रस में डूबकर खूब नृत्य किया।


श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर गेवरा-गुन्देरा में आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि सदर विधायक रामरतन कुशवाहा, नगर पंचायत अध्यक्ष पुनीत सिंह परिहार मोन्टू, विश्व हिन्दु महासंघ के प्रदेश मंत्री दीपक त्रिपाठी, जिला उपाध्यक्ष भाजपा पं.हरिश्चन्द्र रावत, जिलामंत्री धर्मेश द्विवेदी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख राजेश सोनी, पूर्व प्रधान विजय मिश्रा, ग्राम प्रधान कु.सोनम, निर्माण समिति अध्यक्ष मिनी जैन ने माँ सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलन कर किया। इसके पश्चात कार्यक्रम आयोजक एवं समिति के अध्यक्ष अखलेश जैन ने अतिथियों का तिलक व माल्यार्पण कर स्वागत किया। तदोपरांत मथुरा-वृन्दावन से आये कलाकारों ने ब्रज वन्दना प्रस्तुत कर कार्यक्रम का आगाज किया। इस दौरान मुख्य अतिथि विधायक रामरतन कुशवाहा ने आयोजन समिति को बधाई देते हुए कहा कि धार्मिक आस्था को ध्यान में रखते हुए ग्रामीण स्तर पर इतना भव्य और विशाल आयोजन निश्चित ही आयोजकों की विकास के साथ-साथ धार्मिक क्षेत्र में भी अच्छी सोच को प्रदर्शित करता है। ऐसे आयोजनों से आपसी मेल-जोल तो बढ़ने के साथ-साथ धर्म का प्रचार-प्रसार भी होता है। कहा कि भगवान श्रीकृष्ण अद्भुत और विलक्षण महानायक हैं। इसके पश्चात कलाकारों ने श्रीकृष्ण की लीलाएं पेश कीं तो दर्शक बाँकेबिहारी की भक्ति में मग्न हो गये। कलाकारों ने आरती, श्रीकृष्ण-सुदामा चरित्र, मयूर नृत्य सहित भगवान श्रीकृष्ण की अनेकों लीलाएं प्रस्तुत कीं। रात्रि में जब 12 बजे कन्हैया का जन्म हुआ तो पूरा गाँव श्रीकृष्ण-कन्हैया के जयकारों से गूंज उठा। भक्तों ने बधाईयों में खूब नृत्य किया और खुशियाँ मनाई। महोत्सव मंच पर बृज की होली हुई तो भक्तों ने श्रीकृष्ण और राधारानी पर खूब फूल बरसाये। कार्यक्रम आयोजक अखलेश जैन जब कृष्ण-कन्हैया को टोकरी में लेकर निकले, तो भगवान के दर्शनों के लिये श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा। तदोपरांत भगवान श्रीकृष्ण का भेष धारण किये नन्हे पर्व जैन ने माखन मिश्री की चोरी की लीला की, जो आकर्षण का केन्द्र रही। अंत में भक्तों ने श्रीकृष्ण को पालना झुलाया और आरती उतारी। कार्यक्रम में प्रबन्धकारिणी समिति पावागिरिजी के अध्यक्ष ज्ञानचन्द्र जैन, मंत्री जयकुमार जैन, कोषाध्यक्ष उत्तमचन्द्र जैन, पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष शिखरचन्द्र जैन, सुकुमाल जैन, अधिवक्ता सुनील तिवारी, ठेकेदार शिशिर जायसवाल सोन्टू, केशव रिछारिया, अमित कंचन, व्यापारी नेता यशपाल मोदी, ठेकेदार महेन्द्र सोनी, व्यापारी नेता प्रीतेश पवैया, रंजीत सिंह सेंगर, अभिषेक जैन बबीना, अंशुल अग्निहोत्री, विक्की जैन, अंकुर जैन, अभिनेष साहू, राजेन्द्र रायकवार, दीपक साहू, अनुज जैन, पत्रकार प्रिंस राज यादव, आरिफ मंसूरी, सुमित साहू, रफीक राइन, नईम खान, पिंटू श्रीवास्तव सहित सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन उदय प्रकाश शिवहरे टेशु ने किया। अंत मेंं कार्यक्रम आयोजक पत्रकार अखलेश जैन ने सभी का आभार व्यक्त किया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129